प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत 4,78,670 मकानों को मिली मंजूरी?

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) शहर के गरीब लोगों को राहत देने के लिए आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय ने 4,78,670 घरों के निर्माण को मंजूरी दी है।

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) 2022

यह मंजूरी 31 जनवरी 2022 को हुई केंद्रीय मंजूरी और निगरानी समिति (सीएसएमसी) की 42वीं बैठक के दौरान दी गई है। प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत अब स्वीकृत घरों की कुल संख्या 72,65,763 हो गई है।

इन राज्यों में इतने घरों को मिली मंजूरी

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत इन राज्यों में अब तक कई घरों को मंजूरी मिल चुकी है।

राज्यों के नाम स्वीकृत घरों की संख्या
उतार प्रदेश। 91,689 घर
तमिलनाडु 68110 घर
मध्य प्रदेश 35,377 घर
केरल 25,059 घर
महाराष्ट्र 17,817 घर
उड़ीसा 12,290 घर
पूर्वी भारत में एक राज्य 10,269 घर

प्रधानमंत्री आवास योजना

आवास योजना भारत सरकार की एक ऐसी योजना है, जिसके माध्यम से गरीबों को उनकी कार्य शक्ति के अनुसार घर उपलब्ध कराए जाएंगे, सरकार ने 9 राज्यों में कुल 305 शहरों और कस्बों की पहचान की है जिनमें इन घरों का निर्माण किया जाएगा।

  • प्रधानमंत्री आवास योजना का मुख्य उद्देश्य वर्ष 2022 तक सभी नागरिकों को घर उपलब्ध कराना है, सरकार 20 लाख घरों का निर्माण करेगी, जिसमें से 18 लाख घर स्लम क्षेत्रों में होंगे, जबकि 2 लाख घर गरीब क्षेत्रों में बनाए जाएंगे। नगर का। .

प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभ

  • 1. यह निर्णय लेने को गति देगा, आपूर्ति क्षेत्र में गतिविधि भी बहुत तेजी से बढ़ेगी, इस पहल से आर्थिक गतिविधि में वृद्धि होगी और इससे मूल्य में भी काफी वृद्धि होगी।
  • 2. इस वृद्धि से अधिक संख्या में एमआईजी उपभोक्ता सब्सिडी का लाभ प्राप्त कर सकेंगे, नोट- यह सुविधा प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत दी गई है।
  • 3. कॉर्पोरेट एशिया में विकास, लाभार्थियों की संख्या में वृद्धि के साथ, निर्माण गतिविधियों में तेजी आएगी, आवाज क्षेत्र को तेजी से बढ़ने में मदद मिलेगी।
  • 4. निर्माण गतिविधियों में वृद्धि के साथ सीमेंट, सीमेंट, मशीनरी जैसे क्षेत्रों में भी मांग बढ़ेगी, शहरी क्षेत्रों में निर्माण गतिविधियों में वृद्धि से कुशल और अकुशल श्रमिकों के लिए रोजगार के नए अवसर भी पैदा होंगे।

ध्यान देना :- इसी तरह हम सबसे पहले केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी इस वेबसाइट पर देंगे। sarkariyojnaa.com अगर आप देते हैं तो हमारी वेबसाइट को फॉलो करना न भूलें।

अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे एक बार जरूर देखें पसंद करना और शेयर करना जरूर करें।

इस लेख को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

अमर गुप्ता ने पोस्ट किया

डिसक्लेमर
‘या लेखात समाविष्ट असलेल्या कोणत्याही माहिती/सामग्री/गणनाची अचूकता किंवा विश्वसनीयता हमी नाही. ही माहिती विविध माध्यमे / ज्योतिषी / पंचांग / प्रवचन / विश्वास / धर्मग्रंथांमधून गोळा करून तुमच्यासाठी आणली गेली आहे. आमचा हेतू फक्त माहिती पोहोचवणे आहे, त्याच्या वापरकर्त्यांनी ती फक्त माहिती म्हणून घ्यावी. याव्यतिरिक्त, त्याचा कोणताही वापर वापरकर्त्याची स्वतःची जबाबदारी असेल. ‘

Disclaimer
‘The accuracy or reliability of any information/material/calculation contained in this article is not guaranteed. This information has been brought to you by collecting from various mediums / astrologers / almanacs / discourses / beliefs / scriptures. Our purpose is only to deliver information, its users should take it as mere information. In addition, any use thereof shall be the responsibility of the user himself.’

meher

Welcome to https://varor.in/, your number one source for all things products. We’re dedicated to providing you the very best of images and other information, with an emphasis on clear vision. Founded in 2014 by Meher, https://varor.in/ has come a long way from its beginnings in varor. When meher first started out, his passion for photography in varor village cleaning to start their own business.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

close

Ad Blocker Detected!

Refresh